Must Read Articles


Health Insurance Bunkar Bima Yojana important mus know fact

Mahatma Gandhi Bunkar Bima Yojana ropes over Six lakh handloom workers

Six lakh 29 thousand handloom weavers have been enrolled under the Mahatma Gandhi Bunkar Bima Yojana since its inception in FY 2016-17. 

Scheme objective is: Provide insurance cover to handloom weavers under the following events: 

  1. Natural death: Insurance amount Rs. 60,000.

  2. Accidental death: Insurance amount rupee 1,50,000.

  3. Total disability: Insurance amount rupee 1,50,000.

  4. Partial disability: Insurance amount rupee 75,000.

 

ver Six lakh 29 thousand handloom workers across the country have been enrolled under the Mahatma Gandhi Bunkar Bima Yojana since 2016-17. 

Under the scheme, the government provides 90 percent subsidy for purchase of looms, 10 percent subsidy on cotton, domestic silk, and woolen. Also, under MUDRA loan at subsidized interest rate of 6 percent for a period of three years is also provided.

 

 

बंकर बीमा योजना महत्वपूर्ण महत्वपूर्ण तथ्य

महात्मा गांधी बुनकर बीमा योजना में छह लाख से अधिक हथकरघा श्रमिक हैं

वित्तीय वर्ष 2016-17 की शुरुआत से अब तक छह लाख 29 हजार हथकरघा को महात्मा गांधी बंकर योजना के तहत नामांकित किया जा चुका है।

योजना का उद्देश्य निम्नलिखित घटनाओं के तहत हथकरघा बुनकरों को बीमा कवर प्रदान करना है:

  1. प्राकृतिक मृत्यु: बीमा राशि रु। 60,000।

  2. आकस्मिक मृत्यु: बीमा राशि 1,50,000 रुपये।

  3. कुल विकलांगता: बीमा राशि रुपये 1,50,000।

  4. आंशिक विकलांगता: बीमा राशि रुपये 75,000।

 

lakh 2016-17 से महात्मा गांधी बुनकर बीमा योजना के तहत देश भर में छह लाख 29 हजार हथकरघा श्रमिकों को नामांकित किया गया है।

इस योजना के तहत, सरकार करघों की खरीद के लिए 90 प्रतिशत, कपास पर 10 प्रतिशत सब्सिडी, घरेलू रेशम और ऊनी पर सब्सिडी प्रदान करती है। इसके अलावा, तीन साल की अवधि के लिए 6 प्रतिशत की रियायती ब्याज दर पर MUDRA ऋण के तहत भी प्रदान किया जाता है।

 

 


    Write a comment

    Note: HTML is not translated!
    One app for all exams
    Now offering Speed test and Free All exams with real time ranking, English, Reasoning,
    Maths Banking Awareness and Computer Awareness.